Wednesday, February 1, 2023
HomeYojanaUP Mukhbir Yojana 2023: मुखबिरी करने पर मिलेगा दो लाख का इनाम,...

UP Mukhbir Yojana 2023: मुखबिरी करने पर मिलेगा दो लाख का इनाम, पढ़े पूरी जानकारी

UP Mukhbir Yojana 2023 -आज के समय में देश और दुनिया में बढ़ते भ्रूण हत्या जैसी अमानवीय कार्य के कारन लिंगानुपात बढ़ता जा रहा है। और भूर्ण हत्या की जघन्य अपराध होने के साथ पाप है। तो क्या आपकी इस प्रकार की अमानवीय घटना को रोकने में अपनी सहायता देना चाहेंगे। फ्री में तो लगता नहीं है की कोई भी इसमें जुड़ेगा लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से मुखबिर योजना के तहत जो भी इस प्रकार के अपराध के खिलाफ सुचना देता है। तो उसको इनाम के तोर पर धनराशि दी जाती है।

उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से चलाई जा रही इस योजना का मुख्य लक्ष्य भ्रूण हत्या जैसे जघन्य अपराधों पर रोक लगाना है। इसमें कोई भी युवा अपना योगदान दे सकता है। इसके लिए पूरी जानकारी निचे दी गई है जिसमे आपको इनाम कैसे मिलेगा आपको क्या करना होता है इन सब की पूरी जानकारी निचे दी गई है

Mukhbir Yojana क्या है

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा चलाई गई इस योजना के तहत राज्य में होने वाले भ्रूण हत्या जैसे अमानवीय कार्यो पर पूर्ण रोक लगाना है। जिससे इस प्रकार के जघन्य कार्य आगे भविष्य में न हो इसके साथ ही जो लोग इस प्रकार के कार्य में सहयोग करते है और जो लोग इस प्रकार के कार्य में सम्मिलित होते है उनको कड़ी से कड़ी सजा मिल सके ताकि आगे और कोई ऐसा कार्य न कर सके

UP Mukhbir Yojana
UP Mukhbir Yojana

Mukhbir Yojana के तहत इनाम

जो भी लोग इस योजना में अपना सहयोग देते है। सरकार की तरफ से उन लोगो को सम्मान के तौर पर कुछ धनराशि दी जाती है और भविष्य में ऐसे कार्यो को रोकने के लिए उनको प्रोत्साहित किया जाता है। जो धनराशि इनाम के तौर पर दी जाती है उसका विवरण निचे दिया गया है

  • जो व्यक्ति सुचना देता है। उसको 60000 रूपये इनाम के तौर पर मिलते है
    और इस पुरे ऑपरेशन में जो महिला गर्भवती महिला का रोल अदा करती है उसको इनाम के तौर पर एक लाख रूपये
  • जो व्यक्ति इसमें महिला के पति के रूप में होता है उसको चालीस हजार रूपये की धनराशि इनाम स्वरूप दी जाती है

Government Mukhbir Yojana 2023

इस योजना के तहत तीन चरणों में राशि दी जाती है। पहले चरण में महिला को 30,000 हजार की राशि दी जाती है और स्टिंग ऑपरेशन पूरा होने पर बाद जब आरोपी लोगो को कोर्ट में पेश किया जाता है उस समय दूसरी राशि की क़िस्त दी जाती है। और तीसरी क़िस्त जब आरोपी लोगो को सजा हो जाती है तब दी जाती है

इसी तरह से मुखबिरी देने वाले व्यक्ति को भी तीन चरणों में इनाम की राशि दी जाती है ऐसा इसलिए होता है। क्योकि वो लोग मौके पर गवाह होते है। और कोर्ट में इनकी गवाही के ऊपर ही आरोपी लोगो को सजा होती है।
और जो सहायक होते है उनको भी तीन चरणों में राशि दी जाती है।

मुखबिरी योजना से जुड़ने के लिए क्या करना होता है

जो लोग उत्तर प्रदेश राज्य के निवासी है उन लोगो को इस योजना से जुड़ने के लिए स्वास्थय विभाग से सम्पर्क करना होता है। इसमें आप जिस जिले से है उस जिले के स्वास्थय विभाग से सम्पर्क कर सकते है। जैसे ही आपको इस प्रकार के किसी अपराध की सुचना मिलती है तो आप स्वास्थय विभाग से सम्पर्क कर सकते है। इसके बाद स्वास्थय विभाग की तरफ से टीम बनाई जाती है।

और जो टीम बनाई जाती है उसमे CMO , मुखबिर , एक महिला और उसकी सहायक और पुलिस की टीम साथ होती है। और उस जगह पर पहले महिला और सहायक को भेजा जाता है। फिर सब कुछ जाँच होने के बाद छापा मारा जाता है और आरोपियों को पकड़ लिया जाता है। इसके बाद कोर्ट में आरोपियों को पेश किया जाता है। और इसके साथ ही जो गवाह होते है उनको भी कोर्ट में आना पड़ता है। और करवाई के बाद इनाम की राशि आपको मिल जाती है

Conclusion

भ्रूण हत्या एक पाप है। इसको बढ़ावा न दे और अगर आपके आसपास इस प्रकार की कोई घटना होती है तो इसकी सुचना पुलिस और स्वास्थय विभाग को जरूर दे ताकि इस प्रकार के जघन्य अपराध को रोका जा सके और देश की आने वाली पीढ़ी को बचाया जा सके

Read More

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments